Wednesday, April 21, 2021
Home Astrology कुंडली में चंद्रमा के कमजोर होने पर क्या करें?-What to do when...

कुंडली में चंद्रमा के कमजोर होने पर क्या करें?-What to do when the Moon is weak in the horoscope?

कुंडली में चन्द्रमा कमजोर होने पर आप इस महीने इसे मजबूत बनाने पर काम कर सकते हैं क्योंकि यह महीना सबसे अनुकूल रहेगा। वैदिक ज्योतिष में चन्द्रमा सबसे अहम माना जाता है। यह बात हो रही है हिंदू वर्ष के सबसे आखिरी महीने फाल्गुन की। यह 28 फरवरी को शुरू हुआ है और 28 मार्च को खत्म हो जाएगा। ऐसा माना गया है कि इसी माह चंद्रमा का जन्म हुआ था। चंद्रमा की पूजा के लिए यह काफी अहम है। चंद्रमा को सभी ग्रहों में मन का नियंत्रण केंद्र बताया गया है, जिसकी कुंडली में चंद्रमा विराजमान होता है वह बुद्धि, मन,मस्तिष्क का धनी और प्रतिभाशाली होता है।

जिस राशि का स्वामी चंद्रमा होता है, वह व्यक्ति व्यवहार कुशल, उसकी बातें मन को प्रसन्न करने वाली, और शरीर की बनावट गोलाकार होती है। ऐसे व्यक्ति अपनी भावनाओं को प्रकट नहीं करते। वह अपने अंदर उन भावनाओं को रखते हैं, इनके अंदर मन को नियंत्रण करने की काफी क्षमता होती है।

चंद्र राशि वाले व्यक्ति का स्वभाव

ये व्यक्ति काफी आलसी होते हैं, इन्हें नींद से बड़ा लगाव होता है। इनका मन काफी चंचल होता है। और ऐसे व्यक्ति को अनेक बीमारियां गले से संबंधित और पेट से संबंधित ज्यादा होती है।

जानिए चंद्रमा का क्या है ज्योतिष में महत्व

चंद्रमा को वैदिक ज्योतिष में काफी महत्वपूर्ण ग्रह माना गया है। यही कारण भी है, कि चंद्रमा को कुंडली में अलग लग्न की तरह देखा जाता है। ज्योतिष में अधिकतर योगों का चंद्रमा से लग्न के अलावा आकलन होता है। चंद्रमा का लग्न कमजोर होता है या चंद्रमा का ग्रह ठीक स्थिति पर नहीं होता जातक के जीवन के लिए सही नहीं माना जाता है। इसकी वजह से मानसिक रूप से कमजोर रहना, जीवन में दुखों का आना और अशांति जैसी संभावना रहती हैं।

Astro tips: चमकदार और सुंदर दिखने के लिए अपनाएं यह तरीका

चंद्रमा को सुख शांति का कारक कहते हैं। किंतु जब उग्र रूप धारण करता है, तो इसका अलग स्वरूप देखने को मिलता है जो प्रलयकारी रहता है। फागुन मास में चंद्रमा का जन्म हुआ है जिसकी वजह से इस महीने इसकी पूजा का महत्व बहुत अधिक बढ़ जाता है। भगवान भोलेनाथ और चंद्र देव की पूजा इस महीने बहुत लाभ प्रदान करती है।

इस स्थिति में चंद्रमा होता है कमजोर

12वे, छठे, 8वे भाव में यदि कुंडली में चंद्र है। छाती राहु केतु के अक्ष पर चंद्रमा की स्थिति मौजूद है या फिर यह पाप ग्रहों के प्रभाव में रहता है इसे कमजोर कहा जाएगा। आपकी कुंडली में चंद्रमा पक्ष बल मैं भी कमजोर हो सकता है। इसके लिए आपको इस महीने इसे मजबूत बनाना है और इसके लिए अच्छी खासी पूजा अर्चना करना चाहिए। 

ऐसे करें चंद्रमा को मजबूत

  • सोमवार का व्रत रखना है और खीर बना कर गरीबों को दान करना है।
  • मीठा दूध का सेवन नहीं करना है।
  • एक सो आठ बार ओम नमः शिवाय का जाप करना फायदेमंद होता है।
  • महिलाओं का सम्मान आवश्यक है और माता के चरण हर दिन स्पर्श करने है। 
  • पूर्णिमा के दिन चंद्र का देखें और चंद्र मंत्र का जाप उसकी रोशनी में बैठकर करें।
  • सफेद चंदन, चावल, दही, सफेद मोती, चीनी, मोती दान करना फायदेमंद है।

यह भी पढ़े – Lord Rama: अच्छे योग के बावजूद भगवान श्रीराम को इतना संघर्ष क्यों करना पड़ा? भगवान राम की कुंडली के बारे में विस्तार से जानिए? Know in detail about Lord Ram’s horoscope?

Apni Khabarehttps://apnikhabare.com
Apni khabare brings articles, news and views in Hindi in the best way. We bring you special news regularly. Follow us for similar news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular