Wednesday, April 21, 2021
Home Breaking news Rajasthan स्थापना दिवस: राज्य से जुड़ी इन बातों को जानकर हैरान रह...

Rajasthan स्थापना दिवस: राज्य से जुड़ी इन बातों को जानकर हैरान रह जाएंगे!

Rajasthan का स्थापना दिवस हाल ही में मनाया गया है। स्थापना दिवस प्रत्येक वर्ष 30 मार्च को मनाया जाता है Rajasthan का गठन 30 मार्च 1949 को हुआ था। इस लेख के माध्यम से हम Rajasthan से जुड़े कुछ अनोखी तथ्यों के बारे में बताएंगे। देश को आजादी मिलने के 2 साल पश्चात Rajasthan को राज्य का दर्जा देते हुए भारत में सम्मिलित किया गया था। Rajasthan को राज वालों की धरती और राजाओं की भूमि भी कहा जाता है। 

सबसे बड़ा राज्य

अगर इसका आकार देखा जाए तो यह देश का सबसे बड़ा राज्य कहा जाता है। Rajasthan का क्षेत्रफल 342,239 वर्ग किलोमीटर है। हिसाब से यह भारत का सबसे बड़ा राज्य है। 

Rajasthan राज्य अन्य राज्यों की तुलना में काफी ज्यादा आकर्षित इसलिए भी है क्योंकि यह सांस्कृतिक विविधता से ओतप्रोत है। किस राज्य में सांस्कृतिक विविधता इतनी अधिक है कि आप हर कदम पर अलग-अलग चीजों को देख सकते हैं। Rajasthan की राजधानी जयपुर है या Rajasthan का सबसे बड़ा शहर है।

यह भी पढ़ें- Coronavirus: ब्राजील में एक दिन में रिकॉर्ड तोड़ मौतें, विश्व के लोगों को एक बार फिर से सता रहा कोरोना का डर

Rajasthan के भरतपुर क्षेत्र में केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान है जो पक्षियों के लिए विश्व प्रसिद्ध धरोहर स्थल है। राज्य में तीन टाइगर रिजर्व को भी स्थापित किया गया है। प्रथम का नाम रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान द्वितीय सरिस्का टाइगर रिजर्व तृतीय मुकुंदरा हिल्स टाइगर रिजर्व। राज्य में कुल 35 जिले है। 

Rajasthan के महान पुरुष

Rajasthan में कई महान वीर राजा महाराजा का उदय हुआ है। इन महान राजाओं से अच्छे-अच्छे भयभीत हो जाते थे। यहां के महान राजा के नाम निम्नलिखित है- सम्राट पृथ्वीराज चौहान, सम्राट हेमचंद्र विक्रमादित्य, मेवाड़ के महाराणा उदय सिंह, राजा मानसिंह, महाराणा प्रताप सिंह

Mihirwan Singh
मिहिरवान सिंह अनुभवी लेखक है। उन्हें लेख लिखना काफी पसंद है और वह इस प्रकार के लेख काफी लंबे समय से लिखते आ रहे हैं। वह अपने लेख के माध्यम से लोगों को अधिक से अधिक जानकारी देना चाहते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular